पेगासस जासूसी मामला: वो सवाल जिनके जवाब अब तक नहीं मालूम – BBC News हिंदी

  • Share
पेगासस जासूसी मामला

  • बीबीसी हिंदी टीम
  • नई दिल्ली

18 मिनट पहले

इमेज स्रोत, गेटी इमेजेज

भारत सहित दुनियाभर में पेगासस स्पाईवेयर एक बार फिर चर्चा में हैं. इसराइल की सर्विलांस कंपनी एनएसओ ग्रुप के सॉफ्टवेयर पेगासस का इस्तेमाल कर कई पत्रकारों, सामाजिक कार्यकर्ताओं, नेताओं, मंत्रियों और सरकारी अधिकारियों के फ़ोन की जासूसी करने का दावा किया जा रहा है.

50 हज़ार नंबरों के एक बड़े डेटा बेस के लीक की पड़ताल द गार्डियन, वॉशिंगटन पोस्ट, द वायर, फ़्रंटलाइन, रेडियो फ़्रांस जैसे 16 मीडिया संस्थानों के पत्रकारों ने की.

एनएसओ समूह की ओर से ये साफ़ कहा जा चुका है कि कंपनी अपने सॉफ्टवेयर अलग-अलग देश की सरकारों को ही बेचती है और इस सॉफ्टवेयर को अपराधियों और आतंकवादियों को ट्रैक करने के उद्देश्य से बनाया गया है.

पेरिस के एक गैर-लाभकारी मीडिया संगठन फ़ॉरबिडेन स्टोरीज़ और एमनेस्टी इंटरनेशनल को 50 हज़ार फ़ोन नंबरों का डेटा मिला और इन दोनों संस्थाओं ने दुनिया की 16 मीडिया संस्थानों के साथ मिलकर रिपोर्टरों का एक समूह बनाया जिसने इस डेटा बेस के नबंरों की पड़ताल की.

Source link

READ ALSO -   कैसे बताएं कि आप अपनी त्वचा को कम साफ कर रहे हैं या अधिक सफाई कर रहे हैं (संकेत: यह 'चीखने वाला अहसास' जरूरी नहीं कि अच्छी बात हो)
  • Share